(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({ google_ad_client: "ca-pub-1140390092012058", enable_page_level_ads: true, overlays: {bottom: true} }); What Is Page Ctr, Cpc, Cpm, Cpa And Page Rpm In Google Adsense - Hindi में Help

हिन्दी में पढ़े

What Is Page Ctr, Cpc, Cpm, Cpa And Page Rpm In Google Adsense

What Is Page Ctr, Cpc, Cpm, Cpa  And Page Rpm In Google Adsense





What Is Page Ctr, Cpc, Cpm, Cpa  And Page Rpm In Google Adsense




हैलो दोस्तो नमस्कार कैसे हो आपलोग ऊमीद करता हूँ बहुत अच्छे होंगे. दोस्तो आज मैं बहुत महत्वपूर्ण टोपिक पर करने वाला हूँ, अगर आप एक ब्लॉगर है या फिर आप वोर्द्प्रेस्स यूज करते हो, तो आपको इसके बारे में पता होना चाहिए. दोस्तो अगर मेरी ये जानकारी आपको कुछ काम आए तो मुझे कमेंट करके बताएगा, की आपको ये टिप्स कैसा लगा, तो चलिये बात करते है. दोस्तो आज मैं बात करने वाला हूँ एडसेंस में यूज होने वाला ctr, CPC, CPM, CPA और  Page RPM इसका मतलब क्या होता है, इसके क्या फायदे है. तो आइये शुरू करते है।   


दोस्तो आपको तो पता ही होगा की जो गूगल एडसेंस है उससे हमलोगो को यूट्यूब या कोई वैबसाइट पर विज्ञापन लगाता है और उससे हमारे को पैसा कमाई होती है. तो अब हम बता ये करते है की इन सब वर्ड का मतलब क्या होता है, जब हम कभी एडसेंस वाला पेज खोलते है तो उसमे लिखा होता है जैसे CPM, CPC, CTR, RPM आखिर इन सभी का मतलब क्या होता है. ये क्यू लिखा होता है।



सबसे पहले हम बात करने वाला हूँ cpm क्या है ये क्यू लिखा होता है. cpm का फूल फ्रम है cost per thousand, अब आप सोच रहे होंगे की एम से thousand का क्या मीनिंग है, तो मैं आपको बता दूँ की रोमन language में जो 1000 होता है न उसको ये लोग एम मानते है. cpm के मीनिंग क्या है.




cpm के मीनिंग क्या है कॉस्ट पर थाउजेंड है अब इसकी मीनिंग क्या है, इसकी मीनिंग मैं आपको बताता हूँ. यहाँ पर दो चीज है एक तो विज्ञापन प्रदाता जो आपको विज्ञापन दे रही है कंपनी, उसके लिए भी सीपीएम का महत्व है. और जो पब्लिसर है यानी कि हम लोग जो हम लोग वीडियो बनाते हैं या फिर ब्लॉक पर पोस्ट लिखते है, हमारे लिए इसके अलग मायने है मायने क्या है वो बता देता हूँ.



होता क्या है आप मान लो की किसी कंपनी को विज्ञापन देना है आपकी यूट्यूब की वीडियो में, या कोई ब्लॉग पोस्ट में, तो वो एडसेंस से पूछेगा की सिर cpm क्या है यानि की cost per thousand यानि की 1000 जो इंप्रेशन होंगे यानि की 1000 जो विज्ञापन होंगे. उसकी पूरी की पूरी कॉस्ट क्या आयेगी ठीक है, तो उसने जैसे आपको बताया कि अगर आप 1000 विज्ञापन यूट्यूब के किसी विडियो पर देंगे तो आपकी 2 डोल्लर की कॉस्ट आएगी.


हमारे लिए इसका क्या महत्व है अब मान लो की अगर हमारे पोस्ट पर या यूट्यूब विडियो पर 1000 cpm आ जाता है, cpm का मतलब होता है VIEWS आ जाता है, VIEWS कैसे, ये वाले views नहीं विज्ञापन के views मान लो की हमारे विडियो पर लोग 1000 विडियो देख लेंगे, तो उसकी जो कॉस्ट होगी वही हमारी cpm होगी.


अगर गूगल ऐडसेंस हमको सीपीएम देता है $1 यानी कि जब हमारे वीडियो पर या फिर ब्लॉक पोस्ट पर एंड 1000 एंड जब लोग देख चुके होंगे तब हमको $1 मिलेगा. अगर पांच हजार कर चुके होंगे तो 5 डॉलर मिलेगा cpm का मतलब है cost per thousand यानि की 1000 एडवांटेजमेंट का ईतना कॉस्ट होगा ठीक है।


What Is Cpc-Cpc क्या होता है


अब अगली टॉपिक पर जो बात करने वाले हैं वह करने वाले है cpc के बारे में cpc का फूल फ्रम होता है cost per click. आइये जानते है यह क्या चीज है दोनों के लिए अलग-अलग है विज्ञापन प्रदाता कंपनी के लिए भी और हमारे लिए भी, होता क्या है कि जो हमें पैसा मिलता है वह दो तरीके से मिलता है,एक cpm के थ्रु मिलता है और एक cpc के थ्रु मिलता है. जब कोई विज्ञापन करने वाला गूगल ऐडसेंस के पास जाता है, तो उसको ये बताती है कि आपकी cpm इतनी होगी और cpc इतनी होगी.


Most Read: What Is Seo, Seo Setting कैसे होता है 




अब इसका क्या मियाने होगी मैंने आपको cpm के बारे में तो बता दिया, की अगर आपको इतना एड दिखाएंगे तो 1000 एड का इतना कॉस्ट लेंगे। अब बात करते है क्लिक की तो आपके यहाँ पर ये भी शर्त रखते है की आपकी जो पोस्ट है उस पर क्लिक कितनी होगी. यानि की आपके कितने ऐड पर अगर कोई भी यूजर क्लिक करेगा, तो उसका पैसा आपको अलग से देना होगा.


 इसको कहते हैं cost per click cpc, अब मान लो हमारे वीडियो पर हमारी ब्लॉग पोस्ट किसी भी चीज पर जो हमने वैबसाइट पर डाली हुई है, और मान लो सपोज उस पर 1000 एड दिखाये गए, तो हमे cpm के हिसाब से पैसा मिलेगा. और उसमे मान लो की 500 लोगो ने उस पोस्ट या विडियो पर क्लिक किया तो cpc के हिसाब से पैसा मिलेगा। 



अब आप ये जान लो की cpc क्या होती है cpc कभी fix नहीं होती है, इसका fix कोई कायटेरिया नही है, यह पार्टिकुलर कीवर्ड पर काम करता है की किस कीवर्ड पर विडियो बनाया है या हमने किस कीवर्ड पर पोस्ट लिखा है. और अलग-अलग कीवर्ड की अलग-अलग लोकेशन पर अलग-अलग सीपीसी होती है. अब जैसे मान लो इंश्योरेंस है, फ़ाइनेंस है, ये ऐसे कीवर्ड है जो महंगे है।


इन पर अगर हम विडियो बनाएँगे ऐसे बहुत सारे कीवर्ड है, तो इसके क्लिक पर कॉस्ट ज्यादा होगी तो गूगल क्या करेगा जो एड दे रही है कंपनी उसको पहले ही कह देगा की देखिये ये महंगे महंगे कीवर्ड है और ये सस्ते सस्ते कीवर्ड है. अगर इन कीवर्ड से रिलेटेड वीडियोस पर या पोस्ट पर लगाओगे तो इतने पैसे लेंगे और हमारे साथ गूगल हमको भी उसके हिसाब से पैसे शेयर करेगा. cpc कॉस्ट पर क्लिक और कॉस्ट per thousand cpm उस पर दोनों का पैसा अलग अलग मिलता है. 

कोई टिप्पणी नहीं