(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({ google_ad_client: "ca-pub-1140390092012058", enable_page_level_ads: true, overlays: {bottom: true} }); What Is Ctr, Rpm, Cpa. क्या होता है Cpa. - Hindi में Help

हिन्दी में पढ़े

What Is Ctr, Rpm, Cpa. क्या होता है Cpa.



What Is Ctr, Rpm, Cpa.  क्या होता है Cpa.




What Is Ctr, सीटीआर का मतलब क्या होता है. 

 ctr क्या होता है या सीटीआर का मतलब क्या होता है. ctr यानि की click through rate, अब यह क्लिक थ्रु रेट क्या है इसके बारे में मैं आपको थोरा अच्छे से बताता हूँ, तो जानते है cpm और cpc को मिलाने वाली या जोड़ने वाली कड़ी है,


आइये जानते है कैसे तो मान लो जो हमारे विडियो पर जो हमने यूट्यूब पर बनाए या हमारे ब्लॉग पर जितनी भी पोस्ट पर 5000 एडवर्टाइजमेंट दिखाये गए ठीक है, और उस पर जो क्लिक हुये वह मात्र दो हजार हुए, तो अब click through rate ये है कितने पर्सेंट लोगों ने क्लिक किया. समझना ये है की हमारे क्लिक थ्रु रेट कितनी है,


मान लो एक कंपनी ने 100 ऐड हमारे विडियो या पोस्ट पर दिखाये और 3 लोगो ने क्लिक किए  और वहाँ पर वो पहुचा, तो उसकी 3% ही क्लिक थ्रू रेट रह गई, इससे क्या पता चलता है कंपनी को इससे पता ये चलता है कंपनी को हमने जो एड बैनर दिखा रहे है या जिस भी तरह का एड हमने बनाए है, उसकी क्लिक थ्रु रेट कितनी है यानि कितने लोग हमारे एड पर क्लिक करके आ रहे है।


उससे हमे ये पता चलता है की हमारे एड कितने एफेक्टिभ है हमे अपने ऐड को बदलना चाहिए या किसी दूसरे चेन्नेल पर देना चाहिए, या किसी दूसरे कीवर्ड पर काम करना चाहिए. वो इसमे पता लगाते है हम जो ऐड लोगो को दिखा रहे है, जो cpm है उस पर क्लिक कितने हो रहें है,  कितने पर्सेंट क्लिक हो रहें है तो हमे अपने ऐड को सुधारने की जरूरत है.


दोबारा से बनाने की जरूरत है यानि जो भी एडविटिज़मेंट हम यूजर को दिखा रहें है वो कितने इफेक्टिभ है यानि हम उसको कन्वर्ट कितना कर पाये है. तो वो है ctr, तो अब बात करते है हमारे लिए, हम है youtuber हमे ctr से क्या मतलब है तो हमे ctr से मतलब ये है की हमारे चैनल पर किसी भी वीडियो में या पूरे चेन्नेल में एक लाख एडवर्टाइजमेंट आई और उसमें 10000 लोगों ने उस पर क्लिक किया. यानी कि हमारी जो ctr है वह 10% हो गई ठीक है।


अब यहाँ पर बात करेंगे ctr का बढ़ जाना और ctr का घट जाना क्या होता है, तो मैं आपको बता दूं की अगर क्लिक कम होगी तो सीटीआर घट जाएगी, और अगर क्लिक ज्यादा होगी तो सीटीआर बढ़ जाएगी.



ctr बढ्ने पर एडसेंस डिसेबल कैसे होता है वो भी मैं आपको बता देता हूँ. अगर 15 तक तो सामान्य है 12,13,14 ये सब चलती है लेकिन अगर 15 से ctr ज्यादा हो जाए यानि 15% से सीटीआर ज्यादा हो जाए यानि की 15% से ज्यादा लोग हमारे एडवर्टाइजमेंट पर क्लिक करने लग जाए.

 और यह कंटिन्यू तीन चार दिन तक चले तो यह डेंजर जोन में आता है. यानि  गूगल को लगता है ये जो ctr है ये इनवेलिड हो गया है यानि की हम लोग खुद ही जाके  क्लिक कर रहें हैं, या अपने दोस्तो से क्लिक करवा रहें है. तो वो  हमारा गूगल एडसेंस को डिसेबल कर देता है.



अब ये बहुत ही अजीब बात है की वो चाहता भी है की क्लिक थ्रु रेट ज्यादा हो लेकिन उन्हे लगता है की 15% लोग ही क्लिक कर पाते है इससे ज्यादा अगर वो कंटिन्यू करते है अगर मान लो आपका ctr 7,8,9,11,14, और 15 चल रही है तो कोई प्रोबलम नहीं है.


लेकिन अगर 17 एक दिन में हो गए तो कोई प्रॉबलम नहीं है लेकिन 15 से ज्यादा कंटिन्यू चलता है तो हमे अपना एडविटिज़मेंट को बंद करके गूगल को यह अपील करना परता है की देखिये ये जो क्लिक हो रहा है हमारी ओर से नही हो रहा है. ctr अपने आप ही बढ़ रहा है तो उससे क्या होगी तो उससे आपको गूगल एडसेंस देखेगा तो अगर हम गूगल एडसेंस को इन्फॉर्म नही करेंगे तो वो एडविटिज़मेंट को बंद कर देगा उसे invailid एक्टिविटी समझ कर बंद कर देगा।     



Rpm क्या होता है- What Is Rpm.  



rpm का मतलब होता है revenue per thousand impressions होता है, अब आप जानना चाहोगे की इसमे अलग चीज क्या है, तो मैं आपको बता दु rpm का मतलब क्या है सपोज हमे गूगल ने पैसा दिया तो rpm कितना दिया, तो मान लो की एक लाख विज्ञापन हमारे पोस्ट या विडियो पर दिखाया गया, और उस हमे cpc भी मिली मान लो 10000 लोगो ने उस पर भी क्लिक किया.

 अब क्या हुआ हमे जो टोटल पेमेंट आया, वो cpc और cpm दोनों मिलाकर हमको पैसा मिला. दोनों मिलाकर जो है वो पैसा बढ़ जाएगा, मान लो 1000 विज्ञापन हमारे विडियो या पोस्ट पर आए, तो पहली बात की जो हमारा cpm होगा वो हमे मिलेगा.



Most Read: What Is Cpc-Cpc क्या होता है

यानि 1000 एडविटिज़मेंट का पैसा हमे मिलेगा, अब मान लो 20 लोगों ने हमे क्लिक किया तो 20 क्लिक  का पैसा हमको मिलेगा तो दोनों मिलाकर जो पैसा बनता है, वह होता है page rpm, यानि की रेवेन्यू पर मिनट, यानि की टोटल कंपनी को यह समझ मे आता है की टोटल 1000 एड किसी वीडियो को दिखाएं तो हमारा रेवन्यू कितना बना, कितना मोमेंट गूगल को देना है और गूगल हम जैसे youtubers को देगा यानि की टोटल पैसा क्लिक का पैसा और एड दिखाने का पैसा दोनों के पैसे को मिला दिया जाए तो आरपीएम का पैसा बन जाता है,



यानि की टोटल revenue per thousand impressions यानि 1000 impressions हमारे ब्लॉग पोस्ट पर आए या हमारे विडियो पर आए, तो हमे टोटल पैसा कितना मिला उसमे क्लिक का पैसा भी जोड़ा गया है और जो cpm है एडविटिज़मेंट दिखाने का भी पैसा जोड़ा गया है. और दोनों मिलाकर हमको मिला है। 



What Is Cpa, क्या होता है Cpa.   


cpa क्या होता है cpa का मतलब cost per action, अब आप जानना चाहोगे की कॉस्ट पर एक्शन क्या है कुछ कंपनीज जैसे एफिलिएट मार्केटिंग की कुछ कंपनी है वो क्या करती है अलग अलग एक्शन के अलग अलग पैसा देती है, सपोज वो कहती है किसी तरह एड पर क्लिक किया तो हम उसका इतना पैसा देंगे, किसी तरह हमारे जो फॉर्म है उसको पूरे को सबमिट कर दिया तो हम इतना पैसा पे करेंगे, अगर किसी ने क्लिक करके हमारी वेबसाइट पर आया और साइनअप किया, तो हम इतना पैसा पे करेंगे.


और इसके बाद अगर किसी ने क्लिक भी किया फॉर्म भी भरा एवं उसने साइनअप भी किया और हमारा प्रॉडक्ट को पर्चेज भी किया, तो हम इतना ज्यादा पैसा पे करेंगे, तो ये होता है cost per action यानि की क्लिक करने के बाद अलग-अलग जो यूजर करता है, मान लो आपने किसी की वेबसाइट का एडवर्टाइजमेंट पर क्लिक किया क्लिक करने के बाद उसकी पहुंच गए,और वहाँ पर पहुंचने के बाद अगर आपने वहाँ पर मान लो साइनअप किया और उसके फॉर्म को सबमिट किया तो पैसा मिलेगा और अगर आपने किसी के विडियो या पोस्ट के थ्रु गए हो तो उसे उसका पैसा मिलेगा,




और या उनका कोई सर्वे था अगर उसको कंप्लीट किया तो अलग पैसा मिलेगा, और आपने कोई प्रॉडक्ट खरीद लिया तो अलग पैसा मिलेगा, समझ गए आप मेरी बात को यानी कि मेरी वीडियोस या पोस्ट पर मैंने एक एफीलियट प्रॉडक्ट डाला आपने उसमें डिस्क्रिप्शन में उससे आपने क्लिक कर दिया, या किसी एडवर्टाइज पर क्लिक कर दिया और आप जो एडवर्टाइजमेंट दिया था कंपनी.


 उस पर पहुच कर वैबसाइट आपने अलग-अलग तरफ के एक्शन दिये, तो मुझे अलग अलग पेमेंट मिलेगा, तो ये क्या करता है, की कंपनी जो होती है उसकी पॉलिसी जो होती है, अगर कोई भी व्यक्ति इस तरह का एक्शन करेगा, तो उसी तरह का पेमेंट करेंगे.


हम जब भी कोई हमारी वीडियोस पर हमारे ब्लॉग पोस्ट पर या हमारी वेबसाइट पर किसी पोस्ट पर कोई यूजर आता है और वो क्लिक करके वो विज्ञापन प्रदाता की वेबसाइट पर जाता है और अलग-अलग तरह के एक्शन करता है.


 सपोज साइन अप करता है फॉर्म भरता है या सर्वे करता है या प्रॉडक्ट को खरीदता है तो हमे अलग अलग तरह के कमीशन रेट से पैसा मिलता है, इसे कहते है cost per action, तो दोस्तो मैं ऊमीद करता हूँ इन सभी वर्ड का मतलब आप सभी को समझ में आ गया होगा, अगर आपको हमारी लेख अच्छी लगी हो तो एक अच्छा सा कॉमेंट करे और मुझे और प्रोत्साहित करे। धन्यवाद ।     

कोई टिप्पणी नहीं